Sperm count increase in hindi

स्पर्म काउंट बढ़ाने के उपाय
इंसान के जीवन का चक्र बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है और इसी चक्र के पीछे हर इंसान एक लंबी दौड़ लगा रहा हैं। ऐसे में वह अपने लिए थोड़ा सा समय भी नहीं निकाल पाते हैं। इसी जद्दोजहद के कारण पुरुष अपने स्वास्थ्य पर पूरी तरह से ध्यान नहीं देने के कारण उन्हें कुछ जरूरी ऐसी चीजों का अंदाजा भी नहीं होता है कि वह पूरे दिन में अपनी सेहत के हिसाब से क्या खा रहे हैं और क्या पी रहे हैं।

पुरुषों की दिनचर्या तो इतनी बदल गई है कि उन्हें काम की वजह से यह भी नहीं पता चल पाता है कि उन्हें कब सोना है और कब जगना है इन्हीं सभी चीजों में गौर ना करने के कारण वह अपने दैनिक जीवन का तालमेल बिगाड़ लेते हैं। इन छोटी-छोटी वजह के कारण उनकी सेक्सुअल लाइफ भी काफी प्रभावित होती है। जिसमें उनके स्पर्म कम अकाउंट हो जाना तथा स्पर्म की गुणवत्ता खराब हो जाना, नपुंसकता जैसे लक्षण आना, पुरुष बांझपन की समस्या इन्हीं सभी कारणों के कारण हो जाती है।

यदि ऐसे में आप समय रहते इन समस्याओं को दूर करने के लिए इनका आवश्यक उपचार नहीं करते हैं तो आपको पुरुष बांझपन की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

मेडिकल साइंस के अनुसार एक स्वस्थ पुरुष के शरीर में 1 सेकंड में लगभग 1500 स्पर्म अर्थात 1 मिनट में एक स्वस्थ पुरुष के शरीर में 1500 शुक्राणुओं का निर्माण होता है। परंतु आज का मानव जीवन तथा भागदौड़ एवं तनावपूर्ण दिनचर्या ने आधुनिक जीवन शैली को इतना अधिक प्रभावित कर दिया है कि पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या में काफी कमी देखने को मिल रही है इस कमी के कारण अधिकांश पुरुष बांझपन का शिकार हो रहे हैं।

पुरुषों में शुक्राणु की कमी हो जाने से पुरुष शुक्राणुओं की क्वालिटी खराब हो जाती है और उनकी गुणवत्ता भी धीरे-धीरे कम होने लगती है। पुरुषों में स्पर्म काउंट कम होने से फर्टिलिटी पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है।

हम यहां पर एक ऐसे अध्ययन के बारे में बात कर रहे हैं जिसके बारे में जानकर शायद आपको थोड़ा सा आश्चर्य होगा परंतु यह बात सत्य है। विज्ञान कहता है कि मेल इनफर्टिलिटी की जो समस्या पुरुषों की वजह से होती है उनमें अधिकतर पुरुष के कम स्पर्म काउंट की वजह से ही होती है।

मेडिकल साइंस से जुड़े वैज्ञानिकों के शोध बताते हैं कि स्पर्म काउंट का सीधा जुड़ाव पुरुषों के खानपान एवं उनकी डाइट के अनुसार ही होता है। यदि पुरुषों की डाइट एक अच्छी डाइट होती है तो स्पर्म काउंट उतना ही बेहतर देखने को मिलता है इसी बात को ध्यान में रखकर इंडिया आईवीएफ के एक्सपर्टो ने पुरुष शुक्राणुओं की संख्या को बढ़ाने के लिए कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ एवं फल फूल के बारे में पुरुषों की सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने के लिए कुछ ऐसे नुक्से दिए हैं जोकि पुरुषों के स्पर्म काउंट को बढ़ाने में काफी मदद करेंगे।

एक नजर स्पर्म काउंट कम होने के कारणों पर भी डाल लेते हैं –
प्राचीन काल में नपुंसक लोगों को एक अभिशाप के रूप में देखा जाता था परंतु जैसे-जैसे समय बदला वैसे वैसे इस समस्या ने अपने पैर बढ़ाना शुरू कर दिए और आज यह समस्या लगभग लगभग एक आम समस्या बन चुकी है जिससे आज का काफी युवा वर्ग इस समस्या से प्रभावित है।

  1. पुरुषों की लाइफस्टाइल इतनी खराब हो चुकी है कि उनमें कम स्पर्म काउंट हो रहे हैं।
  2. केमिकल से भरी चीजों का उपयोग करने के कारण भी स्पर्म काउंट कम हो रहे हैं जो कि एक काफी बड़ा कारण माना गया है।
  3. भोजन में पोषक तत्व ना होने के कारण भी पुरुषों के स्पर्म काउंट में कमी आ रही है।
  4. व्यायाम न करना या बहुत ही कम करना जय कारण भी पुरुषों में स्पर्म काउंट कम होने का संकेत देता है।
  5. सिगरेट शराब एवं अन्य नशीली चीजों का लगातार सेवन भी इस समस्या को जन्म देता है।
  6. उम्र का भी इस पर काफी गहरा असर देखने को मिलता है क्योंकि जिन पुरुषों की उम्र अधिक हो जाती है उनमें शुक्राणु बनने की मात्रा में काफी कमी देखने को मिलती है।
  7. तनाव को मानव जीवन का सबसे बड़ा बेकार माना जाता है और यदि कोई पुरुष तनाव युक्त जीवन को व्यतीत कर रहा है तो उसमें भी कम स्पर्म काउंट होने की संभावना  अधिक होती है।
  8. यदि आपको कुछ ऐसे ही जटिल बीमारियों ने घेर लिया है जिनका इलाज असाध्य है इनके कारण भी आपके शुक्राणुओं में कमी हो सकती है।

स्पर्म काउंट बढ़ाने के उपाय –
इंडिया आईवीएफ के एक्सपर्ट के अनुसार कुछ ऐसे उपाय एवं डाइट है जिसको अपनाकर आप अपने स्पर्म काउंट की संख्या को बहुत ही आसानी के साथ बढ़ा सकते हैं।

इंडिया आईवीएफ के एक्सपर्ट के अनुसार कुछ ऐसे उपाय एवं डाइट है जिसको अपनाकर आप अपने स्पर्म काउंट की संख्या को बहुत ही आसानी के साथ बढ़ा सकते हैं।

  1. जिंक – जिंक जिनके कैसा पदार्थ है जो पुरुषों की शुक्राणुओं की संख्याओं में वृद्धि करने के लिए काफी मददगार होता है। जिंक की पर्याप्त मात्रा लेने के लिए आप घोंघा को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। आपके स्पर्म बढ़ाने में आपकी मदद करेगा। घोंघा जिंक का एक बहुत ही अच्छा स्रोत माना गया है यदि आप ऐसे प्रतिदिन 50 ग्राम के हिसाब से लेते हैं तो आपके शुक्राणुओं की संख्या बहुत अच्छी हो जाएगी।
  2. अंड़े – प्रोटीन एवं विटामिन स्पर्म बढ़ाने में काफी मददगार साबित होते हैं क्योंकि रूटीन के द्वारा स्पर्म काउंट तो बढ़ाया ही जाता है परंतु इसके साथ साथ आप की प्रजनन क्षमता भी काफी अच्छी हो जाती है। प्रोटीन और विटामिन के लिए अंडों को एक बेहतर स्रोत के रूप में देखा जाता है इसलिए रोजाना दो अंडे यदि आप अपनी डाइट में शामिल करते हैं तो आपकी स्पर्म क्वालिटी और स्पर्म मोटिलिटी काफी अच्छी हो जाएगी।
  3. डार्क चॉकलेट – अमीनो एसिड का सेवन करना आपके स्पर्म की क्वालिटी एवं गुणवत्ता गतिशीलता बढ़ाने में एक अच्छी भूमिका निभाता है। यदि आप अमीनो एसिड का सेवन करना चाहते हैं तो डार्क चॉकलेट एक बेस्ट ऑप्शन है । जो कि आपके स्पर्म काउंट को दुगनी क्षमता के साथ बढ़ाएगा और आपके सीमन को गाना करने में भी मददगार साबित होगा। इसके अलावा डार्क चॉकलेट के अन्य और भी फायदे हैं जैसे कि डार्क चॉकलेट में पर्याप्त मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं । जो कि फर्टिलिटी को प्रभावित करने वाले विकारों को कम कर देते हैं।
  4. लहसुन – लहसुन एक औषधीय खाद्य पदार्थ है जिसका सेवन सामान्य तौर पर लगभग सभी घरों में होते देखा जाता है। यदि आप लहसुन का सेवन कर सकते हैं तो आपके गति हीन शुक्राणु को गतिशीलता प्रदान होती है एवं सेक्सुअल ऑर्गन में ब्लड फ्लो काफी अधिक बढ़ जाता है जो कि आपके स्पर्म को खराब होने से रोकता है। लहसुन में मौजूद सेलेनियम एक प्रकार का एंटीऑक्सीडेंट होता है जो कि आप के शुक्राणुओं की गति को अधिक करता है और साथ ही यह आपके शुक्राणु की रक्षा भी करता है इसलिए अगर हो सके तो अपनी डाइट में प्रतिदिन 2 कली लहसुन के खाने से आपके शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि होगी।
  5. केला – केले में ब्रोमेलन नामक एक एंजाइम होता है जोकि पुरुषों की कामेच्छा शक्ति बढ़ाने में तथा सेक्स हार्मोन को कंट्रोल करने में एक बहुत अच्छी भूमिका निभाता है। केले में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी विटामिन ए तथा विटामिन b1 पाया जाता है जो पुरुषों की शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में पूरी मदद करता है इसलिए अपनी डाइट में 2 किलो को अवश्य ही जगह देनी चाहिए।
  6. कद्दू के बीज – सेक्स हारमोंस को नियंत्रित करने के लिए ओमेगा 3 एवं फैटी एसिड मेल आर्गन में रक्त के संचार करने के लिए बहुत ही आवश्यक होते हैं। ओमेगा 3 एवं फैटी एसिड कद्दू के बीजों में पाए जाते हैं । इसलिए प्रतिदिन 10 से 20 ग्राम की मात्रा के कद्दू के बीज का सेवन करने से टेस्टोस्टेरोन सेक्स हार्मोन मैं वृद्धि होती है जिसके द्वारा शुक्राणुओं का बैलेंस पुरुषों के शरीर में बना रहता है।
  7. ब्रोकली – ब्रोकली में विटामिन ए पर्याप्त मात्रा में पाई जाती है और विटामिन ए की कमी को पूरा करने के लिए ब्रोकली को अपने थाने में सम्मिलित करना चाहिए जिससे आप की प्रजनन क्षमता अच्छी होती है। ब्रोकली के सेवन से कमजोर स्पर्म भी एक्टिव और हेल्दी हो जाते हैं।
  8. अखरोट – का सेवन करना भी आपके लिए एक बहुत ही अच्छा विकल्प है क्योंकि अखरोट में उपस्थित ओमेगा 3 फैटी एसिड के द्वारा स्पर्म काउंट काफी अच्छे मात्रा में बढ़ते हैं और मेल और गंज के द्वारा ब्लड फ्लो बढ़ाने में मदद करते हैं। यदि आप प्रतिदिन एक मुट्ठी अखरोट का सेवन करते हैं तो इससे आपकी स्पर्म की संख्या दोगुनी हो जाएगी तथा स्पर्म का आकार भी एक बेहतर आकार में तब्दील हो जाएगा।
  9. पालक – पालक को फोलिक एसिड का एक बहुत ही अच्छा स्रोत माना जाता है जो कि पुरुष शुक्राणुओं के लिए बहुत ही आवश्यक पोषक तत्व के रूप में देखा जाता है। पालक के सेवन से फोलिक एसिड के द्वारा खराब स्पर्म को ठीक करने में मदद मिलती है। जिसके द्वारा पुरुष के स्पर्म बहुत ही आसानी एवं तीव्र गति के साथ महिला के एग तक बहुत ही आसानी के साथ पहुंच जाते हैं।

स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए क्या करें और क्या ना करें –
इंडिया आईवीएफ के विशेषज्ञों के अनुसार कुछ ऐसे परामर्श दिए जाते हैं जिनका पालन यदि आप नियमित रूप से करते हैं तो निश्चित तौर पर आप अपने शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में कामयाबी हासिल कर लेंगे।

  1. योग – यदि आपको अपने शुक्राणुओं की संख्या बढ़ानी है तो प्रतिदिन आपको थोड़ा मोड़ा योग का नियमित रूप से सहारा जरूर लेना होगा। योग में आप को नियमित रूप से भस्त्रिका प्राणायाम अनुलोम विलोम जरूर करें जो कि आपकी शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में मदद करेंगे
  2. तनाव – तनाव को हमेशा से ही मानव जीवन का विकार माना जाता रहा है और अभी भी माना जा रहा है इसलिए जितना भी हो सके तनाव से दूर रहने की कोशिश करें क्योंकि यदि आप अपने जीवन में तनाव को जगह देते हैं तो इससे आपके शुक्राणुओं की संख्या तथा उनकी क्वालिटी पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है।
  3. धूम्रपान – धूम्रपान जैसे कि अल्कोहल सिगरेट एवं अन्य नशीले पदार्थों के सेवन से पूरी तरह से दूरी बना ले क्योंकि इसके द्वारा काफी ज्यादा आपके शुक्राणु प्रभावित होते हैं।
  4. कपड़े – आपको ऐसे अन्य वस्त्रों का चयन करना है जोकि बहुत अधिक टाइट अर्थात कसे हुए ना हो। आपका अंडरवियर ऐसा पहनने जोकि आपके लिए कंफर्ट हो ज्यादा टाइप ना हो। भूलकर भी रात में जींस या अधिक टाइट कपड़े पहन कर ना सोए रात्रि में ढीला पाजामा पहनने की आदत डालने तो आपके लिए ज्यादा बेहतर रहेगा।
  5. लैपटॉप – ऑफिस या घर में काम करते समय लैपटॉप को कभी भी अपनी जांघों पर ना रखें यह महिला एवं पुरुष दोनों के लिए है क्योंकि इससे आपकी फर्टिलिटी काफी अधिक प्रभावित होती है।
  6. मोबाइल – मोबाइल को अपने पैंट की जेब में ना रखें यदि आप ऐसा करते हैं तो आपके शुक्राणु कम मात्रा में बनेंगे जोकि आपकी सेक्सुअल लाइफ के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकता है।
  7. सोया मिल्क – सोया मिल्क का सेवन करना काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है क्योंकि सोया मिल्क के सेवन से शुक्राणु काफी कम हो सकते हैं ऐसा विज्ञान में कहा गया है।
  8. कॉफी – अत्यधिक कॉफी का सेवन करना आपके लिए हानिकारक हो सकता है क्योंकि अधिक कॉफी के सेवन से पुरुष शुक्राणुओं की संख्या एवं क्वालिटी दोनों ही काफी कमजोर हो जाती हैं इसलिए ज्यादा चाय या काफी पीने से परहेज करें।
  9. स्टीम बाथ – प्रतिदिन स्टीम बाथ से बचें हां हफ्ते में एक बार जरूर कर सकते हैं लेकिन इस का तापमान 40 डिग्री से अधिक गर्म नहीं होना चाहिए और ना ही आपको अधिक गर्म पानी से नहाना चाहिए क्योंकि यदि आप अधिक गर्म पानी के साथ प्रतिदिन स्नान करते हैं तो ऐसे में शुक्राणुओं की संख्या घट सकती है।

इन सभी उपायों के अलावा कुछ ऐसे भी घरेलू उपाय हैं जिन को अपनाना बहुत जरूरी होता है। फ्रिज हमारे जीवन का एक बहुत बड़ा हिस्सा बन चुका है ऐसे में हम ज्यादातर अपने खाद्य पदार्थों को सुरक्षित एवं ताजा रखने के लिए फ्रिज का सहारा लेते हैं । ताकि हमारे खाद्य पदार्थों की क्वालिटी बरकरार बनी रहे लेकिन जो महिला एवं पुरुष बेबी प्लान की कोशिश कर रहे हैं। उन्हें ज्यादातर ऐसे फ्रिज में रखे पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए । जोकि काफी दिनों तक फ्रिज में रखे रहते हैं यदि आप ऐसा करते हैं तो वह काफी नुकसानदायक हो सकते हैं और उससे आपके स्पर्म काउंट कम हो सकता है।

Book Free Consultation

    •  
    •  
    •  
    •  
    •  
    •  

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Fill out this field
    Fill out this field
    Please enter a valid email address.
    You need to agree with the terms to proceed

    Menu
    Open chat