logoflertility
Fertility-Treatment

‘स्पर्म फ्रीजिंग’ संतान सुख पाने का अनोखा तरीका

Semen Freezing process

आज के दौर में स्वास्थ संबंधी बहुत सारी समस्याएं फैल रही हैं। उन्हीं में एक समस्या है बच्चा ना होना। इसे मेडिकल भाषा में इनफर्टिलिटी या बांझपन भी कहा जाता है। आमतौर पर, बांझपन की समस्या को मुख्य रूप से महिला से जोड़कर ही देखा जाता है, लेकिन सच तो यह है कि यह समस्या पुरूष और महिला दोनों को हो सकती है। संतान सुख पाने के कई सारे तरीके हैं और इन्हीं तरीकों में से एक स्पर्म फ्रीजिग’ भी है। स्पर्म फ्रीजिंग प्रक्रिया उन जोड़ों के बीच भी बहुत तेजी से लोकप्रिय हो रही है, जो साथ रहकर समय व्यतीत नहीं कर पाते हैं। यदि आप भविष्य में बांझपन की समस्या से बचना तथा संतान सुख प्राप्त करना चाहते हैं तो महिलाओं के लिए एग फ्रीजिंग और पुरुषों के लिए स्पर्म फ्रीजिंग जैसी प्रक्रिया मौजूद हैं। हालाँकि, बहुत कम लोगों को इस बारे में पूरी जानकारी होती है जिसकी वजह से वे इसका लाभ नहीं उठा पाते। आइए जानते हैं स्पर्म फ्रीजिंग क्या होता है –

क्‍या होती है स्पर्म फ्रीजिंग

स्पर्म को लम्बे समय तक स्टोर करके रखने की प्रक्रिया को स्पर्म फ्रीजिंग कहते हैं। इस प्रक्रिया से पुरुष के स्पर्म को जमा करके रखा जाता है ताकि बाद में जरूरत पड़ने पर उसका इस्तेमाल किया जा सके। इसे सीमेन क्रायोप्रिजर्वेशन या स्पर्म बैंकिंग भी कहा जाता है। स्पर्म फ्रीजिंग पुरुष की हेल्‍दी स्पर्म  कोशिकाओं के कलेक्‍शन, एनालिसिस और क्रायोप्रिजर्वेशन की प्रक्रिया है। इसमें स्पर्म  कोशिकाओं को बाद में प्रयोग में लाने के लिए बहुत ही कम टेंपरेचर पर स्‍टोर किया जाता है। इसका इस्‍तेमाल फर्टिलिटी ट्रीटमेंट में  किया जाता है या किसी और कपल को स्पर्म  डोनेट करने के लिए भी यह प्रक्रिया की जाती है। बहुत से लोग अपने स्पर्म को फ्रीज़ करवाते हैं, इनमें वे व्यक्ति भी शामिल होते हैं जो वर्तमान में बच्चा पैदा नहीं करना चाहते, लेकिन भविष्य में वे ऐसा करना चाहेगें। महिलाओं की एग फ्रीजिंग के मुकाबले स्पर्म  फ्रीजिंग आसान, किफायती और जल्‍दी हो जाती है।

क्यों किया जाता है स्पर्म फ्रीज़?

  • ऐसे कपल्स जो फिलहाल फैमिली प्लानिंग के बारे में नहीं सोच रहे हैं, वे भविष्य में स्पर्म फ्रीजिंग की सहायता से बेबी प्लान कर सकते हैं।
  • जो कपल्स अधिक उम्र में माँ-बाप बनना चाहते हैं, वे भी स्पर्म फ्रीजिंग की सहायता ले सकते हैं।
  • यदि कोई पुरुष नसबंदी करवा ले तो भविष्य में स्पर्म फ्रीजिंग में स्टोर किए गए स्पर्म का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • नि:संतान दंपत्तियों के लिए स्पर्म फ्रीजिंग संतान सुख प्राप्ति का अनोखा तरीका है।
  • कई बार किसी बीमारी या किसी गंभीर स्वास्थ्य स्थिति के कारण डॉक्टर भी स्पर्म फ्रीजिंग की सलाह दे सकते हैं। जिन पुरुषों में स्पर्म काउंट कम होने से इंफर्टिलिटी का खतरा होता है उनके लिए स्पर्म फ्रीजिंग काफी सफल साबित हो सकता है।
  • कैंसर जैसी गंभीर बीमारी का पुरुष के स्पर्म काउंट और स्पर्म की गुणवत्ता पर काफी प्रभाव पड़ता है। कीमोथेरेपी और रेडिएशन के कारण स्पर्म काउंट काफी कम हो जाता है, ऐसे में स्पर्म फ्रीज़ करवाना लाभकारी साबित हो सकता है।
  • समलैंगिक जोड़े भी संतान सुख की प्राप्ति के लिए स्पर्म फ्रीजिंग का विकल्प चुन सकते हैं।

स्पर्म फ्रीजिंग कहाँ की जाती है

  • स्पर्म को फ्रीज़ करके स्टोर करने के लिए सबसे अच्छी जगह स्पर्म बैंक या फर्टिलिटी क्लिनिक में जाना चाहिए। चूँकि स्पर्म का नमूना एकत्र करने के 1 से 2 घंटे के अन्दर, इसे फ्रीज़ किया जाना महत्वपूर्ण होता है।
  • स्पर्म का नमूना एकत्रित करने के लिए आप Legacy or Dadi जैसी- स्पर्म फ्रीजिंग होम बैंकिंग किट का भी उपयोग किया जा सकता है। यह किट स्पर्म के नमूने को घर पर इकट्ठा करने तथा टेस्टिंग और फ्रीजिंग के लिए एक प्रयोगशाला में भेजने के लिए विशेष कंटेनरों को प्रदान करती है।
  • अतः यदि आप स्पर्म फ्रीजिंग कराना चाहते हैं तो आपको स्पर्म बैंक या फर्टिलिटी क्लिनिक में जाकर संपर्क करना चाहिए या फिर अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

कितने समय तक स्पर्म रह सकते हैं फ्रीज

आप कितने भी समय के लिए अपने स्पर्म  फ्रीज करवा सकते हैं। 10 साल तक फ्रीज रहे स्पर्म  से भी हेल्‍दी बच्‍चा पैदा हो सकता है। स्पर्म  को फ्रीज करने की टेक्‍नोलॉजी सन् 1953 में आई थी। आप आज अपने स्पर्म  फ्रीज करवा कर कई सालों बाद भी बेबी प्‍लान कर सकते हैं। हालांकि, एग फ्रीजिंग के मुकाबले स्पर्म  फ्रीजिंग पुरुष कम ही करवाते हैं।

स्पर्म फ्रीजिंग की प्रक्रिया – 

  • स्पर्म फ्रीजिंग करने से पहले, ब्लड टेस्ट कराने की आवश्यकता होती हैं, रक्त परीक्षण की मदद से यौन संचारित संक्रमणों (एसटीआई) की जाँच की जा सकती है।
  • इसके अलावा स्पर्म नमूना जमा करने से पहले, सम्बंधित व्यक्ति को 2 से 3 दिनों तक सेक्स न करने की सलाह दी जाती है।
  • आपकी सुविधानुसार स्पर्म नमूना फर्टिलिटी क्लिनिक या स्पर्म बैंक के एक निजी कमरे में देने की सिफारिश की जा सकती है। क्लिनिक में ही स्पर्म नमूना एकत्रित करना गुणवत्तापूर्ण होता है, और फ्रेश स्पर्म को तुरंत ही जमा दिया जाता है।
  • हस्तमैथुन के बाद स्पर्म का नमूना एक जीवाणुरहित कप (sterile cup) में एकत्रित किया जाता है। कुछ स्थितियों में नमूना एकत्रित करने के लिए आपके साथी की सहायता ली जा सकती है।
  • यदि आप क्लिनिक या स्पर्म बैंक में नमूना एकत्रित करने में असहजता महसूस करते हैं, तो आप घर पर भी अपना नमूना एकत्र कर सकते हैं। बस इतना ध्यान रखना होगा कि एक घंटे के अंदर सैंपल को सावधानीपूर्वक क्लिनिक पहुँचाना होगा।
  • स्पर्म फ्रीजिंग के दौरान सर्वप्रथम शुक्राणु की मात्रा, आकार और गति का विश्लेषण करने के लिए नमूने की जाँच की जाती है। इस जाँच के माध्यम से यह निर्धारित किया जाता है कि फ्रीजिंग के लिए और कितने नमूनों की आवश्यकता होगी। आमतौर पर, अधिक संभावित गर्भावस्था के लिए लगभग तीन से छह नमूने एकत्र किये जा सकते हैं, नमूने एकत्रित करने की संख्या आपके शुक्राणु की गुणवत्ता पर निर्भर करती है।
  • इन नमूनों को कई शीशियों में अलग किया जाता है और एक प्रयोगशाला तकनीशियन द्वारा, जो क्रायोप्रोटेक्टेंट एजेंटों (cryoprotectant agents) के माध्यम से स्पर्म सेल्स को प्रोटेक्ट करने में माहिर होते हैं, जमा दिया जाता हैं।
  • यदि आपके द्वारा दिए गए नमूने में शुक्राणु मौजूद नहीं हैं या फिर आप स्खलन (ejaculate) करने में सक्षम नहीं हैं, तो एक डॉक्टर सीधे अंडकोष (testicle) से स्पर्म निकाल सकता है।

स्पर्म फ्रीजिंग में कितना खर्च आता है? 

यदि कोई स्पर्म फ्रीजिंग कराना चाहता है तो उसके मन में सबसे पहले यह सवाल आता है कि स्पर्म फ्रीजिंग की कीमत क्या है? हम आपको बता दें कि स्पर्म फ्रीजिंग की लागत समय, स्थान और क्लीनिक के आधार पर अलग-अलग हो सकती है। इसके अलावा यदि आप किसी चिकित्सीय कारण से ऐसा कर रहे हैं, तो स्पर्म फ्रीजिंग बीमा द्वारा कवर किया जा सकता है। अगर आप अपने स्पर्म को फ्रीज करना चाहते हैं, तो इसकी कीमत सिर्फ 1500 रुपये हैं। और अगर आप आईयूआई उपचार करवाना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको खर्च होंगे केवल 6000 रुपये। इसके अलावा स्पर्म फ्रीजिंग में कितना खर्चा आएगा वह इसके तरीके पर भी काफी निर्भर करती है।

इस लेख में हमने स्पर्म फ्रीजिंग से जुड़ी आवश्यक जानकारी देने की कोशिश की है, तो इससे आप समझ ही गए होंगें कि आज के समय स्पर्म फ्रीजिंग किस तरह से उन दंपत्तियों के लिए उपयोगी है जो इनफर्टिलिटी की समस्या से जूझ रहे हैं या जो अधिक उम्र में संतान सुख की उम्मीद रखते हैं। इसलिए यदि आप भी एक जैविक बच्चे की तलाश कर रहे हैं, तो यह एक बढ़िया विकल्प हो सकता है।

Book Your Free Consultation

    Add comment

    GET IN TOUCH

    TTC COMMUNITY
    CHECK YOUR FERTILITY

    Pre-Treatment Checklist

    Download the Pre-treatment Checklist

    Follow us

    Don't be shy, get in touch. We love meeting interesting people and making new friends.

    Pre-Treatment Checklist

    Download the Pre-treatment Checklist

    Pre-Treatment Checklist

    Download the Pre-treatment Checklist