महिलाओं में फर्टिलिटी बढ़ाती हैं यह चीजें, आज से ही कर ले अपनी डाइट में शामिल

Diet to increase fertility

आज की जीवनशैली में इतना अधिक बदलाव और तनाव हो चुका है कि स्वास्थ्य को लेकर कोई ना कोई परेशानी है चिंता बनी ही रहती है। हमारे बड़े बुजुर्ग एवं शास्त्रों ने भी कहा है कि स्वास्थ्य जीवन का सबसे बड़ा धन है । परंतु आज के समय में हाल यह है कि लोगों को स्वस्थ एवं अच्छी जीवनशैली अपनाने का समय ही नहीं है। क्योंकि लोगों का जीवन इतना व्यस्त हो चुका है कि उन्हें अपने स्वास्थ्य की भी चिंता नहीं है। इसी जीवन शैली के कारण आज ना जाने कितने ही ऐसे लोग हैं जो हमारे स्वास्थ्य को बहुत ही बुरी तरीके से प्रभावित करते हैं।

जीवनशैली और खान-पान को लेकर महिलाओं की बहुत सारी आदतें हैं जिससे उनकी प्रजनन क्षमता अर्थात फर्टिलिटी बहुत बुरी तरीके से प्रभावित होती है। ऐसे समय में महिलाएं अक्सर परेशान हो जाती हैं की हर चीज सामान्य और रिपोर्ट नॉर्मल होने के बाद भी वह गर्भधारण नहीं कर पाती हैं।

यह महिलाएं इस बात को पूरी तरह से भूल जाती हैं कि गर्भधारण या कंसीव करने के लिए ओव्यूलेशन के साथ- साथ हेल्दी डाइट लेना भी बहुत जरूरी होता है। क्योंकि यदि आपका खानपान अच्छा है, तो आप बहुत ही जल्दी गर्भधारण कर सकती हैं। महिलाओं को चाहिए कि अपनी लाइफ स्टाइल हेल्दी बनाने के लिए जरूरी एक्सरसाइज और पौष्टिक तत्वों से भरपूर फल फूल एवं सब्जियों को जरूर शामिल करना चाहिए। आइए आज हम गर्भवती महिलाओं को ऐसी ही डाइट के बारे में बताने जा रहे हैं जिसको आप अपनी डाइट में शामिल करके आपकी प्रजनन क्षमता को बहुत ही आसानी से बढ़ा सकती है।

इंडिया आईवीएफ के फर्टिलिटी एक्सपर्ट के अनुसार कुछ ऐसे आहार, सब्जियां एवं फल-फूल हैं, जिनको अपनी डाइट में शामिल करके आप अपनी फर्टिलिटी को इंप्रूव कर सकती हैं।

इन चीजों से सेवन से बढ़ेगी गर्भधारण की संभावना
फल-फूल एवं सब्जियाँ

  • महिलाओं को स्वस्थ गर्भधान के लिए एक स्वस्थ इम्यून सिस्टम की बहुत ही आवश्यकता होती है। इसके लिए आपको अपनी डाइट में विटामिन डी से संबंधित सभी फल-फूल एवं सब्जियों को शामिल करना बहुत जरूरी होता है।

विटामिन सी का सेवन

  • फर्टिलिटी को बेहतर करने के लिए जिंक का सेवन करना एक अच्छा विकल्प है इसके सेवन के साथ-साथ मैग्नीशियम विटामिन बी जैसे तत्वों को शामिल करके फर्टिलिटी को और भी अच्छा कर सकती हैं।

आयरन

  • स्वास्थ्य के लिए हरी सब्जियां हमेशा से ही अच्छी मानी गई हैं इसलिए हम आपको सलाह देते हैं कि यह हरी सब्जियां आपकी सेहत के लिए बहुत ही अच्छी होती हैं। हरी सब्जियों में पर्याप्त मात्रा में आयरन के साथ-साथ फोलिक एसिड और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो आपकी फर्टिलिटी बढ़ाने में मददगार साबित हो सकते हैं। इसके अलावा हरी पत्तेदार सब्जियों को अपनी डाइट में शामिल करने से प्रजनन अंग बहुत ही हेल्थी हो जाते हैं।

साबुत अनाज

  • कुछ साबुत अनाज है जिनको अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं जिससे आपको पर्याप्त मात्रा में फाइबर मिलता रहेगा फाइबर के सेवन से पाचन तंत्र बहुत ही अच्छा होगा और फर्टिलिटी क्षमता बनाने में मदद मिलेगी।

ड्राई फूड

  • ड्राई फूड को अपने आहार में शामिल कर कर आप जल्दी से कंसीव कर सकती हैं, क्योंकि सूखे मेवों का सेवन करना अच्छा माना जाता है । इन सूखे मेवों में ओमेगा 3, फैटी एसिड होते हैं जो हमारे मानव शरीर को सेहतमंद बनाते हैं।

फल

  • फलों का सेवन करना हमेशा से ही अच्छा माना जाता रहा है और कहते हैं कि जो लोग अपने भोजन में फलों को को खास जगह देते हैं वह कभी भी अस्वस्थ या फिर बीमार नहीं होते हैं। गर्भवती महिलाओं को 1 दिन में कम से कम तीन फल जरूर खाने चाहिए और यह प्रयास करना चाहिए कि एक फल मौसमी हो जिसका सेवन करना बहुत ही लाभप्रद माना जाता है। गर्भधारण की संभावना को अधिक करने के लिए अपनी डाइट में आप स्ट्रॉबेरी, संतरा, केवी जैसे फलों को शामिल कर सकती हैं। इन फलों में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है, जो आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छा होता है।

दूध एवं कैल्शियम

  • दूध को कैल्शियम और प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है इसलिए कहा जाता है कि रोजाना सभी को दूध पीना बहुत ही जरूरी होता है। यदि आप गर्भधारण के बारे में प्रयास कर रही हैं या फिर प्रेगनेंसी प्लान कर रही है तो अपने डाइट में दूध को एक खास जगह देनी चाहिए। दूध में उपस्थित प्रोटीन फर्टिलिटी हार्मोन को बहुत ही जल्दी बनाने में मददगार साबित होते हैं, जिससे आप सीघ्र ही गर्भधारण कर सकती हैं।

इंडिया आईवीएफ के एक्सपर्ट की खास सलाह –

यदि आप गर्भधारण की सोच रही हैं या फिर आपके मन में गर्भधारण को लेकर विचार कर रहे हैं तो इन सभी डाइट के सेवन के साथ-साथ आपको शराब और धूम्रपान से दूरी बनाकर रखनी होगी। क्योंकि अगर आपके अंदर यह बुरी आदत है तो इससे आपकी सेहत और गर्भधारण की क्षमता बुरी तरह से प्रभावित हो सकती हैं जो आपको संतान सुख में बाधा उत्पन्न कर सकती है।

Book Free Consultation

    •  
    •  
    •  
    •  
    •  
    •  

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Fill out this field
    Fill out this field
    Please enter a valid email address.
    You need to agree with the terms to proceed

    Menu
    Open chat